Thursday, July 3, 2014

Jagat ke rang kya dekhoon tera deedar kaafi hai जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है

Jagat ke rang kya dekhoon tera deedar kaafi hai जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है

Vinod Agrawal

KRISHNA BHAJAN
By Vinod  Agrawal
jagat ke rang kya dekhun tera deedar kafi hai
karun main pyaar kis kis se tera ek pyaar kafi hai

nahin chahie ye duniyaan ke, nirale rang dhang mujhko -2
nirale rang dhang mujhko
chali jaaon main vrindavan, tera darbar kafi hai

jagat ke rang…………….
karun main pyaar……..

jagat ke saaj baajon se, hue hain kaan ab bahre -2
hue hain kaan ab bahre
kahaan jaake sunoon anhad, teri jhankaar kafi hai

jagat ke rang…………….
karun main pyaar……..

jagat ki jhoothi raushani se, hain aankhein bhar gayi meri -2
hain aankhein bhar gayi meri
meri aankhon mein ho hardam, tera chamkaar kafi hai
jagat ke rang…………….
karun main pyaar……..

jagat ke rishtedaaronn ne, phailaya jaal maaya ka -2
phailaya jaal maaya ka
tere santon se preeti  ho, yahi pariwar kafi hai
jagat ke rang…………….
karun main pyaar……..


कृष्ण भजन
गायक:विनोद अग्रवाल

रेरेरे   मे  ध-ध   ध   मेपमे  मेमेग रेग-  मे ग  रे
जगत  के-   रं-ग   क्या-   दे-खूं   तेरा-  दीदा-र   काफी  है
रेरे-   मे  ध-ध    ध  मेप मे  मेमेग रेग - मे ग  रे
करूँ-  मैं-   प्या-र    किस-किस से  तेरा-  एक प्यार काफी  है
रेंरें   रेंरेंनीरें  नी  ध नी   रें  नीध  नी नीरेंनी  ध
नहीं  चाहिए  ये   दुनियां  के,  निराले   रंग   ढं-ग   मुझको -2
मेग  धध  मेमे    ग रे रे
निराले     रंग   ढं ग     मुझको
रेरे-   मेध ध   धमेपमे  मेमेग रेग- मे ग  रे
चली  जाऊँ  मैं   वृंदावन,    तेरा    दरबार  काफी   है

जगत के रंग…………….
करूँ मैं प्यार ……..


जगत के साज बाजों से, हुए हैं कान अब बहरे -2
हुए हैं कान अब बहरे
कहाँ जाके सुनूं अनहद, तेरी झंकार काफी है

जगत के रंग …………….
करूँ मैं प्यार ……..

जगत की झूठी रौशनी से, हैं आँखें भर गयी मेरी -2
हैं आँखें भर गयी मेरी
मेरी आँखों में हो हरदम, तेरा चमकार काफी है
जगत के रंग …………….
करूँ मैं प्यार ……..

जगत के रिश्तेदारों ने, फैलाया जाल माया का -2
फैलाया जाल माया का
तेरे संतों से प्रीति  हो, यही परिवार काफी है
जगत के रंग …………….
करूँ मैं प्यार …….. 



No comments:

Post a Comment